August 15, 2017

तेरा प्यार है इक सोने का पिंजरा, ओ शाहज़ादी
मुझको अपनी जान से प्यारी, है अपनी आज़ादी

0 comments: